Redmi Note 9 Pro Review in Hindi, रेडमी नोट 9 प्रो का रिव्यू

Redmi Note 9 Pro Review in Hindi, रेडमी नोट 9 प्रो का रिव्यू

Redmi Note 9 Pro भारत में लॉन्च हो गया है और 12,999 रुपये की शुरुआती कीमत में उपलब्ध है। स्मार्टफोन में कई दिलचस्प फीचर्स हैं, जिन्हें देखते हुए यह कीमत काफी प्रभावित करने वाली है। हालांकि इस समय मार्केट में कई अन्य मिड-रेंज स्मार्टफोन उपलब्ध हैं, जो इसी कीमत में बेहतरीन फीचर्स से लैस हैं। इनमें दो बड़े नाम Realme 6 और Samsung Galaxy M30s है। रेडनी नोट सरीज़ से शाओमी फैन्स को शुरुआत से ही काफी उम्मीदें रही हैं और ऐसे समय में जब मिड-रेंज स्मार्टफोन फ्लैगशिप ग्रेड फीचर्स से लैस आ रहे हैं, जाहिर है कि Redmi Note 9 Pro से भी फैन्स की उम्मीदें काफी ज्यादा होंगी।

रेडमी नोट 9 सीरीज़ में शामिल 90 हर्ट्ज़ डिस्प्ले, बैटरी को बिजली जैसी फुर्ती से चार्ज करने वाली फास्ट चार्जिंग टेक्नोलॉजी और हाई-रिजॉल्यूशन कैमरा सेटअप कम कीमत के हिसाब प्रभावित करते हैं। हालांकि सीरीज़ के कई प्रीमियम फीचर्स हाई-एंड मॉडल Redmi Note 9 Pro Max में आते हैं।

यहां एक बार फिर प्रश्न यह बनता है कि क्या रेडमी नोट 9 प्रो फैन्स की उम्मीदों पर खरा उतरेगा या नहीं? इस प्रश्न का उत्तर पता लगाने के लिए हमने Redmi Note 9 Pro को रिव्यू किया है। आइए साथ मिलकर जानते हैं कि रेडमी नोट 9 प्रो मिड-रेंज सेगमेंट का बादशाह कहला सकता है या नहीं।

 

Redmi Note 9 Pro design

रेडमी नोट 9 प्रो निश्चित तौर पर एक भारी फोन है। 8.8 मिलिमीटर मोटाई और 209 ग्राम वज़न के साथ कई यूज़र्स इस फोन को भारी महसूस करेंगे। कंपनी का कहना है कि इस फोन का वज़न पूरी बॉडी में सामान बाटा गया है, जिसकी वजह से यूज़र्स को भारी महसूस नहीं होगा। हमने इसे एक-हाथ से इस्तेमाल करना मुश्किल पाया लेकिन असंभव नहीं।

Xiaomi के तीन रंग है, इंटरस्टेलर ब्लैक, ग्लेशियर व्हाइट, और ऑरोरा ब्लू। इसमें आपको कोई भी तरह का पैटर्न नहीं मिलेगा। हमारी ऑरोरा ब्लू यूनिट बहुत चमकदार रियर पैनल के साथ आती है, जो ब्राइट और रिफ्लेक्टिव है। शुक्र है कि रियर पैनल बहुत फिसलन भरा नहीं है, लेकिन जैसे ही आप इसे छूते हैं तो यह उंगलियों के निशान आसानी से पकड़ लेता है।
 

redmi

शाओमी एक नए कैमरा बंप डिज़ाइन के साथ आया है। इसमें फ्लैश चार कैमरा लेंस के नीचे केंद्रित है। यह एक अच्छा डिज़ाइन टच है, जो इसे पिछले रेडमी नोट 8 सीरीज़ से काफी अलग बनाता है।

रेडमी नोट 9 प्रो के आगे और पीछे दोनों जगह गोरिल्ला ग्लास 5 का इस्तेमाल किया गया है और इसका फ्रेम पॉली कार्बोनेट से बना है। फ्रंट में शामिल सेल्फी कैमरा होल-पंच कटआउट में सेट किया गया है। दिलचस्प बात यह है कि हमने देखा कि इसके बॉक्स के कवर पर रेडमी नोट 9 प्रो की तस्वीर में वास्तव डिवाइस की तुलना में एक छोटा होल-पंच कटआउट दिखाया गया है।

अगला दिलचस्प पॉइन्ट इसमें शामिल साइड-माउंटेड फिंगरप्रिंट सेंसर है, जिसे पावर बटन में सेट किया गया है। यह फोन के दायीं ओर दिया गया है, जो हमारे दाहिने हाथ के अंगूठे के साथ काफी अच्छी तरह से काम करता है। यदि आप बाएं हाथ के हैं, तो आपको यह असुविधाजनक लगेगा।

Xiaomi का कहना है कि पावर बटन में फिंगरप्रिंट सेंसर इसलिए दिया गया है, क्योंकि यह इन-डिस्प्ले सेंसर से तेज है और बैक पर आने वाले फिंगरप्रिंट सेंसर से अधिक सुविधाजनक है। यह निश्चित रूप से बजट सेगमेंट के स्मार्टफोन के लिए नया है।

वॉल्यूम बटन को पावर बटन के ऊपर अजीब तरह से सेट किया गया है और कॉल करते समय इस तक पहुंचना आसान नहीं होता है। बायीं ओर, दो नैनो-सिम और एक माइक्रोएसडी कार्ड के लिए स्लॉट वाली ट्रे दी गई है। Xiaomi का ट्रेडमार्क इंफ्रारेड एमिटर फोन के टॉप पर है और इसका उपयोग कई घरेलू डिवाइसों को नियंत्रित करने के लिए किया जा सकता है। सामान्य यूएसबी टाइप-सी पोर्ट, 3.5 मिलिमीटर ऑडियो सॉकेट और नीचे की तरफ स्पीकर है। बहुत से लोग यह जानकर खुश होंगे कि वास्तव में इयरपीस में एक छिपी हुई नोटिफिकेशन और चार्जिंग एलईडी भी दी गई है।
 

redmi

शाओमी ने डिज़ाइन के मामले में काफी अच्छा किया है और Redmi Note 9 Pro बिना किसी बड़े बदलावों के भी नया फील देता है। फोन में P2i कोटिंग भी है, जो इसे पानी के छीटों से बचा सकता है। हालांकि यह पूरी तरह से वाटरप्रूफ नहीं है।
 

Redmi Note 9 Pro specifications and software

रेडमी नोट सीरीज के फोन में आमतौर पर प्रभावशाली स्पेसिफिकेशन होते हैं और शाओमी ने इस फोन पर पिछले मॉडल के मुकाबले ज्यादा बड़ी स्क्रीन और बैटरी दी है। फोन में आपको 6.67-इंच का फुल-एचडी+ (1080×2400 पिक्सल) डिस्प्ले मिलता है, जिसमें फ्रंट कैमरा के लिए एक बड़ा होल-पंच दिया है। कुछ फैन्स को निराशा हो सकती है कि इसमें आजकल ट्रैंड में चल रहे हाई-रिफ्रेश रेट वाला डिस्प्ले छोट कंपनी ने स्टैंडर्ड रिफ्रेश रेट वाला डिस्प्ले दिया है। रेडमी नोट 9 प्रो में 60 हर्ट्ज़ डिस्प्ले दिया है। वहीं, इसी कीमत के आसपास आने वाले Realme 6 में 90 हर्ट्ज़ डिस्प्ले आता है।

Xiaomi का दावा है कि ऐसी कई ऐप्स हैं, जो हाई रिफ्रेश रेट का लाभ नहीं उठा सकती हैं और लोग वास्तव में 60 हर्ट्ज़ और 90 हर्ट्ज़ के बीच में अंतर नहीं बता सकते। कंपनी का कहना है कि हाई रिफ्रेश रेट बैटरी लाइफ पर भी असर डालती है। हमें यह भी समझना चाहिए कि 12,999 रुपये कीमत में कुछ समझौतें बुरे नहीं है।

फोन में 5020 एमएएच क्षमता की बैटरी है। Xiaomi का दावा है कि यह बैटरी 29 घंटे की VoLTE कॉलिंग और 14 घंटे की गेमिंग दे सकती है। आपको बॉक्स में 18W का चार्जर मिलता है, जो बैटरी को फास्ट चार्ज करता है।
 

redmi

Snapdragon 720G दो हाई-परफॉर्मेंस 2.3 गीगाहर्ट्ज़ कोर और छह एनर्जी-एफिशिएंट 1.8 गीगाहर्ट्ज़ कोर के साथ आने वाला एक एडवांस चिपसेट है, जो 8nm प्रोसेस पर निर्मित है। स्मार्टफोन के 4 जीबी रैम और 64 जीबी वेरिएंट की कीमत 12,999 है और इसका 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरिएंट 15,999 रुपये में आता है। अन्य हाइलाइट में NavIC सपोर्ट के साथ स्टैंडर्ड जीपीएस, डुअल-बैंड वाई-फाई एसी, ब्लूटूथ 5 और अन्य स्टैंडर्ड सेंसर शामिल हैं। फोन के बॉक्स में 18W चार्जर के साथ यूएसबी टाइप-सी केबल और एक सिम इजेक्टर टूल मिलता है। इसमें एक प्लास्टिक केस भी मिलता है।

Redmi Note 9 Pro में Android 10 पर आधारित MIUI 11 शामिल है और हमारे रिव्यू यूनिट में यह फोन फरवरी सिक्योरिटी पैच पर काम कर रहा था। अफसोस की बात है कि यह फोन भी ब्लोटवेयर के साथ आता है और प्रोमोशनल कंटेंट वाली Xiaomi की व्यावसायिक रणनीति का हिस्सा है। कंपनी का कहना है कि यूज़र्स इनमें से कुछ सर्विस को हटा सकते हैं या निष्क्रिय कर सकते हैं, लेकिन हमने इसमें फिर भी बहुत सारे स्पैम नोटिस देखें।

इसमें कोई ऐप ड्राअर नहीं है, लेकिन आपको यूआई कस्टोमाइजेशन के कुछ लेवल मिलते हैं। होमस्क्रीन पर स्वाइप करने से एमआई ब्राउज़र लॉन्च होता है जो आपको इंस्टॉल किए गए ऐप्स की खोज करने में भी मदद करता है। यह कुछ हद तक सुविधाजनक है लेकिन हम चाहते हैं कि इस शॉर्टकट को खुद से किसी और काम के लिए भी कस्टोमाइज़ किया जा सके। सॉफ्टवेयर में सभी एंड्रॉयड 10 और एमआईयूआई 11 फीचर्स शामिल हैं।
 

redmi

 

Redmi Note 9 Pro performance and battery life

इस समय मार्केट में बजट स्मार्टफोन पर आने वाले हार्डवेयर भी रोजमर्रा के इस्तेमाल में अच्छी परफॉर्मेंस देते हैं। मिड-रेंज रेडमी नोट 9 प्रो भी बिना किसी परेशानी के बेसिक कॉल से लेकर भारी 3डी गेमिंग तक सभी तरह के साथ आसानी से कर देता है। मल्टीटास्किंग भी काफी स्मूथ है। यदि आप एक हाई रिफ्रेश रेट डिस्प्ले वाला स्मार्टफोन चाहते हैं तो आपको इस फोन में इसकी कमी खल सकती है, लेकिन अधिकांश लोगों को वास्तव में इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा।

रेडनी नोट 9 प्रो उपयोग करने में एक आसान फोन नहीं है, जैसा कि हमने कहा है। इस फोन में बड़ी स्क्रीन वीडियो और गेम के लिए अच्छी तरह से काम करती है, लेकिन कैमरा बंप का आकार और स्थान इसे गेमिंग के समय लैंडस्केप तरीके से पकड़ने में असुविधाजनक बनाता है। लंबे समय तक कॉल करने के लिए इसे पकड़े रहने से थकान भी हो सकती है। साइड-माउंटेड फिंगरप्रिंट सेंसर और फेस रिकॉग्निशन दोनों ही हमारे अनुभव में फास्ट और सटीक थे।

स्क्रीन ब्राइट और शार्प है। रंग अच्छे दिखते हैं और यदि आप अपने हिसाब से रंग की सेटिंग को बदलना चाहते हैं, तो सेटिंग्स ऐप में कुछ प्रीसेट भी उपलब्ध हैं। वीडियो-स्क्रीन देखने पर हमें कैमरा कटआउट थोड़ा विचलित करने वाला लगा। कुछ ऐप को एक ब्लैक बैंड के साथ स्क्रीन के टॉप पर कटआउट छिपाने के लिए डिज़ाइन किया गया है। हम स्पीकर से बहुत प्रभावित नहीं हुए। हालांकि साउंड लाउड था, लेकिन कानों में चुभता था।

PUBG मोबाइल डिफॉल्ट रूप से हाई ग्राफिक्स प्रीसेट सेटिंग्स पर चलता है। हमने लगभग 20 मिनट तक कुछ राउंड खेले और पाया कि रेडमी नोट 9 प्रो शाओमी के दावों के विपरीत थोड़ा गर्म होता है। फोन कभी भी असुविधाजनक नहीं रहा, लेकिन हम बहुत अधिक समय तक खेलना नहीं चाहते थे। हालांकि ग्राफिक्स में किसी तरह का उतार चढ़ाव देखने को नहीं मिला और गेमप्ले भी अच्छा था।

हम इस फोन की बैटरी का परीक्षण करने के लिए उत्सुक थे। साधारण उपयोग के साथ, हमें Redmi Note 9 Pro में डेढ़ दिन का बैकअप आराम से मिल गया, जो कि प्रभावित करने वाला है। इस दौरान हमने कुछ गेम खेले, वीडियो स्ट्रीम किए और बहुत सारे फोटो और वीडियो लिए। हमारा एचडी लूप वीडियो टेस्ट 16 घंटे, 2 मिनट तक चला जो कि अच्छा है लेकिन उतना नहीं जितना हम उम्मीद कर रहे थे। यह देखते हुए कि इस सेगमेंट में कुछ प्रतियोगी 20 घंटे का स्कोर पार कर सकते हैं।
 

redmi

 

Redmi Note 9 Pro cameras

स्मार्टफोन के बैक पर चौकोर कैमरा बम्प भी कुछ रेडमी नोट सीरीज़ फैन्स को आश्चर्यचकित कर सकता है। प्राइमरी कैमरा 48-मेगापिक्सल रिजॉल्यूशन के साथ आता है, जिसका अपर्चर f/1.79 है और नए सैमसंग ISOCELL GM2 सेंसर के साथ आता है।

कैमरा सेटअप में एक 8-मेगापिक्सल का वाइड-एंगल कैमरा 2-मेगापिक्सल डेप्थ सेंसर और 5-मेगापिक्सल का मैक्रो लेंस शामिल है। Xiaomi ने फोन में एक बेहतर नाइट मोड, सुपर फेज़ डिटेक्शन ऑटोफोकस और भारतीयों के हिसाब से स्पेशल कलर प्रोफाइल दिए जाने का दावा किया है। वीडियो को 30fps के साथ 4K रिजॉल्यूशन या 60fps के साथ 1080 पिक्सल पर रिकॉर्ड किया जा सकता है। 720p रिजॉल्यूशन की स्लो-मोशन रिकॉर्डिंग 960fps पर की जा सकती है। इसमें आप मैक्रो कैमरा का उपयोग करके भी वीडियो शूट कर सकते हैं।
 

img

 

img

फ्रंट कैमरे में 16-मेगापिक्सल रिजॉल्यूशन वाला सेंसर है। यह कैमरा 120fps तक स्लो-मोशन वीडियो बना सकता है। एआई ब्यूटिफिकेशन फीचर भी दिया गया है, जो डिफॉल्ट रूप से चालू रहता है।

हमने प्राइमरी कैमरा को अच्छा पाया, लेकिन इसे क्वालिटी के मामले में कुछ अलग नहीं कहा जा सकता है। क्लोज़-अप अच्छा लग रहा था और सब्जेक्ट की डिटेल भी साफ दिखाई दे रही थी। यदि पर्याप्त रोशनी और टेक्सचर ज्यादा जटिल न हों तो दूर के सब्जेक्ट भी अच्छी तरह से कैप्चर होते हैं। वाइड-एंगल कैमरा बहुत बुरा नहीं है, लेकिन क्वालिटी निश्चित रूप से कम हो जाती है। डिस्टॉर्शन करेक्शन का वादा करने के बावजूद, फ्रेम के किनारों पर अभी भी कुछ घुमावदार इफेक्ट दिखाई देते हैं।
 

img

 

img

5-मेगापिक्सल का मैक्रो कैमरा ज्यादातर अन्य मैक्रो कैमरों की तुलना में बहुत अधिक क्वालिटी वाले शॉट्स निकालकर देता है। हालांकि हमारे कई शॉट्स कई बार डल रंगों और खराब एक्पोज़र के साथ आए।
 

img

 

img

रात में हमने आर्टिफिशियल रोशनी में Redmi Note 9 Pro के प्राइमरी कैमरे को अच्छा पाया। लेकिन कम रोशनी में कैमरा ने क्वालिटी के साथ समझौता कर लिया। वाइड-एंगल कैमरा ने भी अच्छी तस्वीरें नहीं निकाली, लेकिन कम रोशनी में हमें इससे बहुत उम्मीद नहीं थी। नाइट मोड आश्चर्यजनक रूप से अप्रभावी था। इसमें कम रोशनी वाली तस्वीरों में ब्राइटनेस तो जरूर जोड़ी, लेकिन अंधेरे में लिए गए सब्जेक्ट के साथ कुछ नहीं किया। अकसर अन्य फोन में शामिल नाइट मोड अंधेरे में लिए गए शॉट में सब्जेक्ट की डिटेल, शार्पनेस और क्वालिटी को बढ़ाते हैं।
 

img

 

img

फ्रंट कैमरा दिन के साथ-साथ रात में भी काफी अच्छा काम करता है, लेकिन हमें इसका ब्यूटिफिकेशन मोड पसंद नहीं आया, जिससे चेहरे आर्टिफिशियल दिखाई देते हैं। हालांकि तस्वीरों में डिटेल दिन के साथ-साथ रात में भी अच्छी आती हैं और पोर्ट्रेट शॉट्स में बैकग्राउंड अच्छी तरह से धुंधला आता है।
 

Verdict

रेडमी नोट 9 प्रो की कीमत के हिसाब से इसका बेस वेरिएंट एक अच्छा विकल्प है, खास तौर पर इसके फीचर्स और परफॉर्मेंस के लिए। हालांकि, यह फोन रेडमी नोट 8 प्रो की तुलना में रेडमी नोट 8 का अपग्रेड ज्यादा लगता है।

हम Redmi Note 9 Pro की शैली को पसंद करते हैं। फोन की स्पेसिफिकेशन बहुत प्रभावशाली हैं और हमें इस फोन के इस्तेमाल के दौरान दिन-प्रतिदिन के कार्यों के साथ-साथ सामान्य मनोरंजन में बहुत कम शिकायतें हुई। प्राइमरी कैमरा हमें थोड़ा निराश करता है, खासकर कम रोशनी में। हमने अपनी पसंद के हिसाब से इस फोन को थोड़ा बहुत भारी पाया।

शाओमी ने सीरीज़ का एक हाई-एंड मॉडल Redmi Note 9 Pro Max भी लॉन्च किया है, जिसकी शुरुआती कीमत 14,999 है और यह आपको बेहतर फ्रंट और रियर कैमरा सेटअप, अधिक रैम, और तेज चार्जिंग फीचर देता है। रेडमी नोट 9 प्रो के हाई-एंड वेरिएंट की कीमत 15,999 रुपये है। कंपनी के द्वारा सेट की गई यह कीमत ग्राहकों निश्चित तौर पर काफी भ्रमित करती है। जहां एक ओर रेडनी नोट 9 प्रो के हाई-एंड वेरिएंट की कीमत 15,999 रुपये है, वहीं, बेहतर हार्डवेयर और फीचर्स से लैस रेडमी नोट 9 प्रो मैक्स फोन के बेस वेरिएंट की कीमत 14,999 रुपये है।

इसलिए यदि Redmi Note 9 Pro के 4 जीबी रैम और 64 जीबी स्टोरेज वेरिएंट की बात करें तो 12,999 रुपये की कीमत में यह निसंदेह एक अच्छा विकल्प दिखाई देता है, लेकिन यदि 6 जीबी रैम और 128 जीबी स्टोरेज वेरिएंट की बात करें तो इसे खरीदना हमें बेकार का फैसला लगता है। हमें उम्मीद है कि Xiaomi सॉफ्टवेयर अपडेट के माध्यम से कैमरे को बेहतर बनाएगी। यदि ऐसा होता है तो इस फोन को हराना बहुत मुश्किल हो सकता है।


Source link

Total Page Visits: 103 - Today Page Visits: 2