Oppo F1 Review in Hindi, ओप्पो एफ1 का रिव्यू

ओप्पो ने खास कैमरा फोकस ”एफ सीरीज” स्मार्टफोन ओप्पो एफ1 जनवरी में लॉन्च किया था। इस सीरीज के सभी स्मार्टफोन में अनोखे और खास फीचर वाले कैमरे हैं।

ओप्पो एफ1 स्मार्टफोन के फ्रंट कैमरे से वाइड अपर्चर और कुछ आसान सॉफ्टवेयर ट्रिक की मदद से एक परफेक्ट सेल्फी ली जा सकती है। आज अपने रिव्यू में हम जानेंगे कि यह स्मार्टफोन सेल्फी बेस्ड फोन आसुस और दूसरे ब्रांड से कितना अलग है।

लुक और डिजाइन
बात करें फोन की बॉडी और डिजाइन का तो एफ1 शानदार दिखता है। मेटल बॉडी लुक के साथ यह प्रीमियम स्मार्टफोन का अहसास देता है। 134 ग्राम वजन के साथ फोन बहुत हल्का है। फोन बहुत आसानी से हाथ में फिट हो जाता है। आसान ग्रिप के साथ बटन सटीक जगह पर दिये गए हैं। वॉल्यूम रॉकर और पॉवर बटन अलग-अलग तरफ दिये गए हैं और ठीकठाक काम करते हैं।

बात करें फोन के अगले हिस्से की तो 5 इंच का एचडी आईपीएस डिस्प्ले इंडोर में अच्छे रंग देता है लेकिन सूरज की रोशनी में स्क्रीन इतना साफ नहीं दिखता। फोन में प्रोटक्शन के लिए कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास है। ऊपर की तरफ दायें कोने पर नोटिफिकेशन एलईडी, नीचे की तरफ नेविगेशन के लिए कैपिसिटिव बटन (बिना बैकलाइट) भी हैं।

ओप्पो एफ1 में एलईडी फ्लैश और अपर्चर एफ/2.2 के साथ 13 मेगापिक्सल सेंसर का कैमरा है। स्पीकर ग्रिल नीचे की तरफ है। फोन में नॉन-रिमूवेबल 2500 एमएएच बैटरी है। ओप्पो एफ1 गोल्ड और रोज गोल्ड कलर वेरिएंट में उपलब्ध है। दायीं तरफ फोन की हाइब्रिड सिम ट्रे है जिसका मतलब है कि आपके पास दूसरी सिम और माइक्रोएसडी कार्ड में से किसी एक के चुनाव का विकल्प होगा।
 

फोन के फिजिकल फीचर की बात करें तो हमें इसमें कोई कमी नहीं लगी। ओप्पो ने फोन को बेहतर तरीके से डिजाइन किया है। दिन की रोशनी में फोन के डिस्प्ले की विजिबिलिटी को और बेहतर किया जा सकता था और नेविगेशन बटन में बैकलाइट इस फोन को और बेहतर बना सकते थे। ओप्पो एफ1 के साथ आपको एक स्टैंडर्ड 5 वाट का चार्जर, एक सिलिकॉन केस, एक हेडसेट और एक बुकलेट मिलेगी। फोन के साथ आने वाली एक्सेसरी में हेडसेट को छोड़कर सभी की क्वालिटी अच्छी है।
 

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
ओप्पो एफ1 स्मार्टफोन बाजार में आने वाले उन चुनिंदा फोन में शुमार है जिनमें सबसे पहले स्नैपड्रैगन 615 प्रोसेसर दिया गया था। क्वालकॉम का यह नया ऑक्ट-कोर प्रोसेसर लगभग स्नैपड्रैगन 615 प्रोसेसर की तरह ही है लेकिन इसकी क्लॉक स्पीड थोड़ी ज्यादा है।
 

इसके अलावा इस स्मार्टफोन में 3जीबी रैम और 16 जीबी ऑनबोर्ड स्टोरेज भी है। स्टोरेज को माइक्रोएसडी कार्ड की मदद से 128 जीबी तक बढ़ाया जा सकता है। फोन में बैंड 1, 3 और 40 पर 4जी वीओएलटीई सपोर्ट दिया गया है। बात करें कनेक्टिविटी की तो वाई-फाई बी/जी/एन, ब्लूटूथ 4.0, यूएसबी ओटीजी, एफएम रेडियो और जीपीएस जैसे फीचर दिये गए हैं। फोन में एनएफसी सपोर्ट मौजूद नहीं है।
 

ओप्पो एफ1 स्मार्टफोन एंड्रॉयड लॉलीपॉप दिया गया है। फोन में सिंगल लेयर इंटरफेस है जिसे अलग-अलग थीम और इफेक्ट के साथ कस्टमाइज किया जा सकता है। इसके अलावा ओप्पो के इस स्मार्टफोन में डेटा इस्तेमाल को मॉनिटर करने, मेमोरी खाल करने के लिए सिक्योरिटी सेंटर, कॉन्टेक्ट और मैसेज के बैकअप के लिए ओ-क्लाउड, डॉक्यूमेंट और स्प्रेडशीट पर कामके लिए किंगसॉफ्ट ऑफिस और फोन को कस्टमाइज करने के लिए थीम स्टोर जैसे विकल्प दिये गए हैं।

परफॉर्मेंस
ओप्पो एफ1 स्मार्टफोन की जनरल परफॉर्मेंस बहुत अच्छी है। इंटरफेस आसानी से काम करता है और मल्टीटास्किंग के दौरान ऐप में भी कोई दिक्कत देखने को नहीं मिली। 4जी पर फोन ने अच्छे से काम करता है और अधिकतर समय बेहतर रहा। लेकिन लगातार वीडियो प्लेबैक और वीडियो रिकॉर्डिंग के दौरान कैमरे के इस्तेमाल के समय फोन गर्म हो जाता है। फोन की कॉल क्वालिटी में भी हमें कोई दिक्कत नहीं हुई।
 

फोन के बेंचमार्क आंकड़े ठीकठाक रहे। फोन में गेम के दौरान भी कोई दिक्कत नहीं हुई। डेड ट्रिगर 2 और ऑल्टो एडवेंचर जैसे गेम के दौरान भी फोन में कोई परेशानी सामने नहीं आई। फोन में औसतन 2 जीबी रैम ऐप के लिए उपलब्ध रहती है।

ओप्पो एफ1 के साथ आने वाला हेडसेट खराब क्वालिटी का है और यह कान में ठीक से फिट भी नहीं होता। लेकिन फोन की ऑडियो क्वालिटी बहुत शानदार है। फोन में ऑडियो बढ़ाने के लिए कोई सॉफ्टवेयर नहीं है। फोन में अलर्ट के लिए रियर स्पीकर काफी तेज है लेकिन चूंकि यह एक स्टीरियो स्पीकर नहीं है इसलिए मूवी देखने के दौरान यह मजेदार नहीं है।
 

ओप्पो एफ1 के 13 मेगापिक्सल कैमरे से हमें दिन की रोशनी में साफ और डिटेल तस्वीरें मिलीं। इंडोर रोशनी में भी तस्वीरों की डिटेलिंग अच्छी दिखी। लेकिन कम रोशनी में ली गईं तस्वीरें बहुत ज्यादा साफ नहीं दिखीं। कम रोशनी में रिकॉर्ड की गई वीडियो के साथ भी यही परेशानी हमें देखने को मिली। फोन में एक्सपर्ट मोड, स्लो शटर और एचडीआर समेत कई दूसरे कैमरा मोड दिये गए हैं।
 

ओप्पो एफ1 का सबसे अहम फीचर है इसका फ्रंट कैमरा। रियर कैमरे से भी ज्यादा अपर्चर वाले 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा शानदार है। नेचुरल और आर्टिफिशिल दोनों ही रोशनी में फोन से ली गई सेल्फी काफी डिटेल के साथ आती हैं लेकिन कम रोशनी में क्वालिटी थोड़ी खराब हो जाती है। ओप्पो ने कुछ नए फीचर शामिल किये हैं जिससे लोग ज्यादा अच्छी सेल्फी ले सकते हैं।

बैटरी लाइफ
हमारे वीडियो लूप टेस्ट के दौरान फोन की बैटरी 8 घंटे 53 मिनट तक चली जो कि 2500 एमएएच बैटरी के हिसाब से काफी अच्छी है। वहीं 4जी पर साधारण इस्तेमाल के दौरान हमें एक दिन बाद ही बैटरी को चार्ज करने की जरूरत हुई। लेकिन फोन में कोई फास्ट चार्जिंग सपोर्ट नहीं है जिससे फोन चार्ज होने में काफी वक्त लगाता है।
 

हमारा फैसला
15,990 रुपये की कीमत में ओप्पो एफ1 एक शानदार फोन है। फोन की ओवरऑल परफॉर्मेंस अच्छी है। फोन का डिजाइन और बनावट अच्छी है। फोन की सामान्य परफॉर्मेंस भी ठीक है और लगभग हर तरह की रोशनी में रियर और फ्रंट दोनों कैमरे से बेहतर क्वालिटी की तस्वीर मिलती है। फोन की बैटरी लाइफ भी काफी अच्छी है। यदि ओप्पो ने फोन में एनएफसी और नैविगेशन बटन बैकलाइट के साथ दिये होते तो फोन और बेहतर हो सकता था।

इस प्राइस रेंज में ओप्पो एफ1 की टक्कर आसुस ज़ेनफोन सेल्फी (रिव्यू) से होती है। आसुस ज़ेनफोन सेल्फी में भी एक बेहतर कैमरा है लेकिन इसमें ओप्पो जितने शानदार स्पेसिफिकेशन नहीं है।


Source link

Total Page Visits: 19 - Today Page Visits: 2