हॉनर 5सी का रिव्यू

हुवावे के सब-ब्रांड हॉनर के स्मार्टफोन हमेशा वेल्यू के लिए जाने जाते रहे हैं। और हॉनर 5एक्स और हॉनर 7 (रिव्यू) जैसे स्मार्टफोन ने इस प्रतिष्ठा को बरकरार रखा है। जनवरी में हॉनर 5एक्स और हॉनर हॉली 2 प्लस के लॉन्च होने के बाद कंपनी ने अब अपना नया स्मार्टफोन हॉनर 5सी लॉन्च कर दिया है।

हॉनर का यह नया प्रोडक्ट मिड-रेंज सेगमेंट में आता है। 10,999 रुपये में लॉन्च हुए इस स्मार्टफोन की टक्कर भारत में सबसे भीड़भाड़ वाले बजट सेगमेंट स्मार्टफोन से होगी। हॉनर 5सी की टक्कर मोटो जी4 प्लस, शाओमी रेडमी नोट 3 और लेनोवो ज़ूक ज़ेड1 जैसे शानदार स्मार्टफोन से होगी। आज हम हॉनर 5सी का रिव्यू करेंगे और जानेंगे कि स्मार्टफोन में हैं कौन सी कमियां और खूबियां।
 

लुक और डिजाइन
हॉनर 5सी काफी हद तक हॉनर 5एक्स की तरह दिखता है। दोनों फोन के रियर पैनल काफी हद तक एक जैसे हैं खासकर ब्रश्ड मेटल फिनिश। किनारों की तरफ और नीचे की तरफ फोन में थोड़ा फर्क पता चलता है जहां डिज़ाइन और टेक्सचर 5एक्स से थोड़ा अलग है। हमें लगता है कि 5एक्स स्मार्टफोन से 5सी दिखने में कहीं ज्यादा बेहतर है। कैमरा लेंस और फिंगरप्रिंट सेंसर भी पिछले फोन की तरह ही रियर पर है।

इसके अलावा इस फोन में कुछ दूसरे बदलाव भी किए गए हैं जिनमें सबसे महत्वपूर्ण है फोन का साइज़। हॉनर 5सी में 5.2 इंच का छोटा स्क्रीन है। छोटा होने से फोन को पकड़ना काफी आसान है। बात जब वज़न और मोटाई की आती है तो फोन काफी अलग है। हॉनर 5सी काफी मजबूत नज़र आता है।
 

फोन के किनारे स्टैंडर्ड लेआउट के तहत ही हैं। दायीं तरफ पावर व वॉल्यूम बटन दिए गए हैं जबकि बायीं तरफ सिम ट्रे है। माइक्रो-यूएसबी पोर्ट और स्पीकर नीचे की तरफ और ऊपर की तरफ 3.5 एमएम शॉकेट है। हालांकि, फोन में दो ग्रिल हैं लेकिन इनमें से दायीं तरफ वाला ही वाकई में स्पीकर है। इसके अलावा फोन के किनारे घूमें हुए हैं जिससे यह हाथ में अच्छा लगता है लेकिन फोन की ग्रिप थोड़ी मुश्किल हो जाती है।

फोन में 5.2 इंच फुल-एचडी आईपीएस एलसीडी स्क्रीन है जो फ्रंट में 68.7 हिस्से को कवर करता है। फोन में कैपेसिटिव टच बटन की जगह ऑन-स्क्रीन एंड्रॉयड बटन दिए गए हैं। बात करें स्क्रीन की तो, यह काफी चमकदार है लेकिन बहुत ज्यादा चमकदार भी नहीं है। इसके साथ कलर भी काफी डल हैं और सामान्य तौर पर हमें स्क्रीन कम वाइब्रेंट और म्यूट लगा। अधिकतर समय स्क्रीन शार्प रहता है लेकिन अगर आप वीडियो देखने या अधिकतर समय सूरज की रोशनी में बिताते हैं तो आपको स्क्रीन थोड़ा डल लग सकता है।
 

हॉनर 5सी में रियर पर फिंगरप्रिंट सेंसर दिया गया है जो फोन अनलॉक करने के साथ ऐप अनलॉक करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। फिंगरप्रिंट सेंसर हमेशा स्टैंडबाय पर रहता है और फोन के स्लीप मोड में होने पर भी यह अच्छे से अपना काम करता है। फिगंरप्रिंट सेंसर सटीक तो है लेकिन हाल ही में हमारे द्वारा रिव्यू किए गए कुछ डिवाइस से बेहतर नहीं है। आपको फोन अनलॉक करने के लिए उंगली को कुछ देर तक सेंसर पर रखना पड़ता है।
 

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
हॉनर 5सी में 5एक्स की तरह ही अधिकतर मिड-रेंज स्पेसिफिकेशन हैं लेकिन इनमें कुछ फर्क भी है। इनमें सबसे खास है कि कीरिन 650 प्रोसेसर का इस्तेमाल, जिसे हुवावे की सहायक कंपनी हिसिलिकॉन ने बनाया है। यह कंपनी का नया मिड-रेंज प्रोसेसर है। क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 616 प्रोसेसर के साथ आने वाले 5एक्स से प्रोसेसर के मामले में 5सी काफी अलग है। गौर करने वाली बात है कि इस प्रोसेसर को बनाने में 16एनएम फिनफेट+ का इस्तेमाल होका है जो बेहतर परफॉर्मेंस का वादा करता है। इसके साथ ही यह प्रोसेसर क्वालकॉम और मीडियाटेक की तुलना में बेहतर बैटरी लाइफ देने का भी दावा करता है।

हॉनर 5सी में 2 जीबी रैम और 16 जीबी इंटरनल स्टोरेज (माइक्रोएसडी कार्ड के जरिए 128 जीबी तक एक्सपेंडेबल) है और 3000 एमएएच की बैटरी है। इस कीमत में हालांकि आपको 3 जीबी या ज्यादा रैम वाले स्मार्टफोन भी मिल जाएंगे। हॉनर 5सी में 2 जीबी रैम से एक अच्छा मेमोरी मैनेजमेंट सिस्टम मिलता है जो ऐप को रैम से बाहर रखता है जिससे फोन बिना किसी परेशानी के चलता है। हालांकि, फोन में ग्राफिक्स से जुड़े सीमित काम ही हो जाएंगे और अधिकतर सामान्य परिस्थितियों में अच्छे से काम करता है।
 

हॉनर 5सी एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर चलता है जिसके ऊपर हुवावे की ईएमयूआई 4.1 स्किन दी गई है। पुराने और नए ईएमयूआई वर्जन में बदलाव कोई खास मायने नहीं रखता क्योंकि इसका जाना-पहचाना लुक बरकरार है। जिसमें सिंगल लेयर यूज़र इंटरफेस, नोटिफिेकेशन शेड और क्विक सेटिंग मेन्यू शामिल है। इस यूआई में एक सबसे खास फीचर मैगज़ीन लॉक स्क्रीन अभी भी दिया गया है जो लॉक स्क्रीन बैकग्राउंडको हर बार एक नई तस्वीर के साथ बदल देता है। फोन मैनेजर ऐप बहुत काम का है और इससे सिस्टम ऑप्टिमाइज़ेशन फंक्शन को नियंत्रित करने, डाटा यूजेज़, ऐप लॉक करने और बैटरी खपत जैसे सभी काम किए जा सकते हैं।

एंड्रॉयड मार्शमैलो से भी काफी नए फीचर मिले हैं जिनमें बेहतर परफॉर्मेंस, बैटरी ऑप्टिमाइज़ेशन के लिए डोज़ मोड, नाउ ऑन टैप और नया ऐप परमिशन सिस्टम शामिल है। पिछले हॉनर डिवाइस में दिए गए ओएस से इस फोन में दिया गया ओएस कहीं बेहतर है। लेकिन अभी भी हम ज्यादा कस्टमाइज़ेशन और नियंत्रण के चलते एमआईयूआई और सायनोजेनओएस के साथ आने वाले डिवाइस को प्राथमिकता देंगे।
 

कैमरा
ह़नर 5सी में 13 मेगापिक्सलर का रियर और 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है। दोनों ही कैमरों से 1080 पिक्सल तक की रिकॉर्डिंग की जा सकती है और रियर कैमरे में एक सिंगल एलईडी फ्लैश दिया गया है। इसके अलावा एचडीआर, स्लो-मोशन वीडियो, टाइम लैप्स वीडियो और पैनोरमा मोड भी हैं।
 

सॉफ्टवेयर में कुछ और मजेदार ट्रिक्स मिलते हैं जिनमें प्रो फोटो और प्रो वीडियो मोड शामिल है जिससे आप हर सेटिंग, लाइट पेंटिंग, फूड मोड और ऑल-फोकस को एडजस्ट कर सकते हैं। सेटिंग मेन्यू में ऑब्जेक्ट ट्रैकिंग के लिए कंट्रोल, स्माइल कैप्चर, सेल्फ टाइमर और रिज़़ॉल्यूशन शामिल हैं। फोटो और वीडियो के बीच एक क्विक स्विचर है जिसके साथ फ्रंट व रियर कैमरा स्विचर, फ्लैश और फिल्टर भी है।

ह़नर 5सी की कैमरा परफॉर्मेंस हॉनर 5एक्स से ब बेहतर है। 5सी से तस्वीरें अच्छे कलर और डिटेलिंग के साथ आती हैं। वेल-लिट सेटिंग में तस्वीरें शानदार आती हैं और कम रोशनी में ली गई तस्वीरें भी ठीक हैं। लेकिन तस्वीरों में थोड़ा बिखराव दिखता है लेकिन इस कीमत में आने वाले फोन के हिसाब से तस्वीरें काफी अच्छी आती हैं।
 

फोकस स्पीड भी पिछले फोन से सुधरी है और अब ऑब्जेक्ट ट्रैकिंग बेहतर और प्रतिक्रिया पहले से तेज है। फ्रंट कैमरा भी बेहतर हुआ है। मैक्रो शॉट अच्छे हैं और कैमरे से अच्छे कलर व डिटेलिंग वाली तस्वीरें आती हैं। हालांकि, इस कीमत में मिलने वाले दूसरे बेहतर कैमरे वाले फोन की तरह हॉनर 5सी के कैमरे से कुछ खास नहीं मिलताय़

परफॉर्मेंस
हुवावे ने हॉनर 5एक्स में अपना हिसिलिकॉन प्रोसेसर नहीं दिया था। लेकिन 5सी में हमेशा की तरह कीरिन 650 प्रोसेसर दिया गया है। फोन की परफॉर्मेंस शानदार है और फोन लगभग हर तरह की स्थिति में अच्छे से काम करता है। हालांकि, इस कीमत के दूसरे फोन में कई बेहतर परफॉर्म करने वाले फोन उपलब्ध हैं। आपको हॉनर 5सी में किसी तरह की खास परेशना देखने को नहीं मिलेगी।

बेंचमार्किंग टेस्ट में हॉनर 5सी से अच्छे आंकड़े मिले। फोन में ग्राफिक्स और वीडियो परफॉर्मेंस ठीक है लेकिन एक साथ कई ऐप चलाते और हेवी गेम खेलते समय थोड़ी समस्या होती है।

हॉनर 5सी में क़ल क्वालिटी, नेटवर्क और डेटा कनेक्टिविटी के दौरान कोई समस्या नहीं होती है। 3000 एमएएच की बैटरी के बावजूद बैटरी लाइफ भी हॉनर 5एक्स से बेहतर मिलती है। हमारे वीडियो लूप टेस्ट में हमें फोन से 11 घंटे और 11 मिनट तक की बैटरी लाइफ मिली और सामान्य इस्तेमाल के समय बैटरी आसानी से पूर् दिन चल जाती है। एंड्रॉयड डोज़़ मोड बैटरी खपत कम करने में खासा मदद करता है और हमने ध्यान दिया कि 4जी कनेक्टिविटी के बावजूद फोन इस्तेमाल ना करने के दौरान बैटरी की खपत नहीं करता।
 

हमारा फैसला
हॉनर 5सी अपने पिछले फोन की तुलना में थोड़ा बेहतर फोन है। इसके ज्यादा क्षमता वाले प्रोसेसर और कैमरे में किए गए थोड़े सुधार इसे 5एक्स से बेहतर बनाते हैं। फोन का डिजाइन और लुक भी पहले से बेहतर हुआ है। फोन में शिकायत करने को लेकर बहुत कुछ नहीं है खासकर इस कीमत के साथ।

लेकिन, 5सी को एक जबरदस्त फोन नहीं कहा जा सकता। फोन में कोई खास आकर्षक फीचर नहीं है और यह हर तरफ से एक औसत डिवाइस है। फोन की कीमत अगर थोड़ी कम होती तो ज्यादा बेहतर होता। ग्राहक इस कीमत वाले कुछ दूसरे फोन जैसे रेडमी नोट 3 और लेनोवो ज़ूक ज़ेड1 को खरीदना ज्यादा पसंद करेंगे।


Source link

Total Page Visits: 74 - Today Page Visits: 1