आसुस ज़ेनफोन सेल्फी रिव्यूः सेल्फी के दीवानों के लिए खास

आसुस ज़ेनफोन सेल्फी रिव्यूः सेल्फी के दीवानों के लिए खास

स्मार्टफोन आज की तारीख में कई लोगों के लिए प्राइमरी कैमरा का काम करते हैं। इसकी कई ठोस वजहें भी हैं। आज की तारीख में स्मार्टफोन से की जाने वाली फोटोग्राफी काफी बेहतर हो गई है। अब तो लोगों को अलग से कैमरा रखने की भी ज़रूरत नहीं पड़ती। स्मार्टफोन से ली गई तस्वीरें डिजिटल फॉर्मेट की होती हैं और उन्हें स्टोर करना भी सस्ता है। अगर साथ में स्मार्टफोन है तो घर से बाहर निकलए और तस्वीरें खींचते जाइए। बिना किसी टेंशन के।

(पढ़ें: आसुस ज़ेनफोन सेल्फी का 3जीबी रैम वाला वेरिएंट 17,999 रुपये में उपलब्ध)

अब ज्याद़ातर यूज़र को चस्का लगा है सेल्फी का। इसकी लोकप्रियता का अंदाजा ऐसे लगाया जा सकता है कि ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी ने 2013 में इसे वर्ड ऑफ द ईयर करार दिया। स्मार्टफोन निर्माताओं को भी फ्रंट कैमरे की अहमियत का अंदाजा है तभी तो वे ऐसे प्रोडक्ट पेश कर रहे हैं जिनकी यूएसपी सेल्फी फीचर है। हाल ही में लॉन्च किए गए माइक्रोमैक्स कैनवस सेल्फी और इनफोकस एम530 इसी रणनीति का हिस्सा हैं।

अब बात आसुस द्वारा पेश किए गिए ज़ेनफोन सेल्फी डिवाइस की। इस डिवाइस में लेज़र ऑटोफोकस सिस्टम मौजूद है जो हमें आसुस ज़ेनफोन 2 लेज़र में भी देखने को मिला था। सेल्फी डिवाइस में ज्यादा अच्छा फ्रंट कैमरा है और यह स्पेसिफिकेशन के मामले में भी बेहतर है। क्या इसमें सेल्फी के दीवानों को लुभाने वाली बात है? हम यह जानने की कोशिश करेंगे।

asus zenfone selfie main ndtv

लुक और डिज़ाइन
आसुस ज़ेनफोन सेल्फी स्मार्टफोन का डिजाइन बहुत हद तक आसुस ज़ेनफोन 2 लेज़र पर बेस्ड है। एक खास किस्म का आकार, डिवाइस के ऊपरी हिस्से पर बना सर्कल पैटर्न और रियर हिस्से पर बना वॉल्यूम रॉकर, कुल मिलाकर डिवाइस को ऐसे डिजाइन किया गया है कि वह ज़ेनफोन सीरीज का हिस्सा लगे।

डिजाइन में मुख्य अंतर यूनिक कलर वेरिएंट का है। इसके अलावा सेल्फी स्मार्टफोन का फ्रंट कैमरा ज्यादा बड़ा है। यह कैमरा सेंटर में बना हुआ है और इसके दोनों तरफ फ्लैश व ईयरपीस हैं। इस फोन में हाइब्रिड-सिम स्लॉट मौजूद है, यानी सिम स्लॉट का इस्तेमाल माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट के तौर पर किया जा सकता है। हालांकि, आप दोनों में से एक का ही इस्तेमाल कर पाएंगे। हमने पहले भी कहा है कि यह फ़ीचर आपको बहुत हद तक सीमित कर देता है।

आसुस ज़ेनफोन सेल्फी में मौजूद 5.5 इंच (1080×1920 पिक्सल) का स्क्रीन शार्प, ब्राइट और बेहद ही डिटेल है। व्यूइंग एंगल्स, सनलाइट लेजिब्लिटी और कलर रिप्रोडक्शन के मामले यह बेहतरीन है।

asus zenfone selfie chin ndtv

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
आसुस ज़ेनफोन सेल्फी में क्वालकॉम स्नैपड्रैनग 615 चिपसेट का इस्तेमाल किया गया है जो 15,000 रुपये से कम रेंज वाले डिवाइस के लिए आम है। हमें जो रिव्यू यूनिट मिला, उसमें 3जीबी का रैम और 32जीबी की इनबिल्ट स्टोरेज है। डिवाइस का एक और वेरिएंट 15,999 रुपये में उपलब्ध है जो2जीबी रैम और 16जीबी की इनबिल्ट स्टोरेज के साथ आता है।

पहली नज़र में आसुस का यह डिवाइस थोड़ा महंगा नज़र आता है, खासकर जब इसकी तुलना यू यूरेका प्लस जैसे हैंडसेट से की जाए जो इससे कम पैसे में उपलब्ध हैं। हालांकि, एक बात का ध्यान रहे कि आसुस आपसे प्रीमियम कैमरा टेक्नोलॉजी के पैसे ले रहा है।

asus zenfone selfie back ndtv

अन्य स्पेसिफिकेशन में दोनों सिम पर 4जी सपोर्ट, कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास 4 प्रोटेक्शन, माइक्रोएसडी कार्ड (64 जीबी तक) और 3000एमएएच की बैटरी हैं। यह डिवाइस कहीं से भी टॉप स्पेसिफिकेशन वाला नहीं है, लेकिन दैनिक इस्तेमाल में पूरी तरह के कारगर है।

आसुस के अन्य डिवाइस की तरह ज़ेनफोन सेल्फी भी कई ब्लॉटवेयर और आसुस के टूल के साथ आता है। थर्ड-पार्टी ऐप्स को तो हटाया जा सकता है, लेकिन आसुस के ऐप्स और सर्विसेज को आप सिर्फ डिसेबल कर पाएंगे।

asus zenfone selfie camera ndtv

कैमरा
आसुस ज़ेनफोन सेल्फी में 13 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है जो एफ/2.2 एपरचर और 88 डिग्री वाइड एंगल व्यू फीचर से लैस है। रियर कैमरे में भी 13 मेगापिक्सल का कैमरा है। इसका लेंस एफ/2.0 एपरचर वाला है और साथ में मौजूद है लेज़र ऑटोफोकस सिस्टम। दोनों ही कैमरे में 5पी लार्गन लेंस, तोशिबा सेंसर, ब्लू ग्लास फिल्टर और डुअल-टोन एलईडी फ्लैश मौजूद हैं।

आसुस ज़ेनफोन सेल्फी का रियर कैमरा आसुस ज़ेनफोन 2 लेज़र डिवाइस के कैमरे जैसा ही है और परफॉर्मेंस भी एक जैसी है। कैमरे से इंडोर सेटिंग्स में ली गई तस्वीरें अच्छी हैं, पर आउटडोर शॉट औसत हैं जो डेलाइट में वाश्ड आउट नज़र आते हैं। लेंज़र ऑटोफोकस और मैक्रो फोकस के बूते इंडोर शॉट और क्लोज शॉट अच्छे आते हैं।

asus_zenfone_selfie_camerashot5_ndtv
asus zenfone selfie camerashot1 ndtv

ज्यादा संभावना है कि आप भी फ्रंट कैमरे का इस्तेमाल सेल्फी लेने के लिए करें, इसलिए हमने टेस्टिंग इसी तक सीमित रखी। तस्वीरें बेहद ही शार्प, डिटेल और वाइब्रेंट आईं। कलर रिप्रोडक्शन और कम रोशनी में परफॉर्मेंस भी अच्छी थी। मुख्य तौर पर फ्रंट कैमरे में भी रियर कैमरे वाली ही कमी है। तस्वीरें वाश आउट हैं और इनमें व्हाइट सेचुरेशन की भी समस्या है। आम तौर पर तो इसका इस्तेमाल नज़दीक में खड़े शख्स की तस्वीर के लिए किया जाना है, ऐसे में यह शानदार कैमरा है। फ्रंट फ्लैश एक फायदेमंद फ़ीचर है।

डिवाइस का कैमरा ऐप ज़ेनफोन 2 लेज़र के ऐप जैसा ही है और यह इसका इंटरफेस अच्छे से डिजाइन किया गया है। ऑटोमैटिक मोड, डिटेल्ड मैनुअल मोड, एचडीआर, पनोरमा, स्मार्ट रीमूव, स्लो मोशन, जिफ एनिमेशन और टाइम लैप्स कुछ गौर करने वाले फ़ीचर हैं। फ्रंट कैमरे के जरिए भी इन मोड का इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके अलावा सेल्फी पनोरमा का विकल्प भी मौजूद है।

asus zenfone selfie camerashot4 ndtv

परफॉर्मेंस
दैनिक इस्तेमाल के लिहाज से आसुस ज़ेनफोन सेल्फी एक सक्षम स्मार्टफोन है और इसका श्रेय डिवाइस में मौजूद स्नैपड्रैगन 615 चिपसेट को जाता है। मदद तो 3जीबी के रैम से भी मिलती है जो डिवाइस को स्मूथ चलाने के काम आता है। इंटरफेस बिना किसी कमी के रन करता है। ऐप्स और गेम आसानी से लोड होते हैं और चलाने में भी कोई परेशानी नहीं होती। इस डिवाइस पर डेड ट्रिगर 2 गेम को खेलने का अनुभव शानदार रहा। हालांकि, बैटरी बेहद ही तेजी से खत्म हुई और डिवाइस का पिछला हिस्सा थोड़ा गर्म भी। हमारे टेस्ट वीडियो भी इस पर आसानी से चले।

बेंचमार्क टेस्ट में स्नैपड्रैगन 615 प्रोसेसर वाले अन्य डिवाइस की तुलना में सेल्फी स्मार्टफोन के रिजल्ट ज्यादा बेहतर आए। वैसे भी आप प्रीमियम कैमरा टेक्नोलॉजी की कीमत चुका रहे हैं, ऐसे में इसकी परफॉर्मेंस बहुत हद तक कीमत से साथ सार्थक नज़र आती है।

बैटरी लाइफ भी अच्छी है। आसुस ज़ेनफोन सेल्फी की बैटरी हमारे वीडियो लूप टेस्ट में 11 घंटे 28 मिनट तक चली। आसुस ज़ेनफोन 2 लेज़र की तुलना में यह थोड़ा कम है। इस डिवाइस की बैटरी आसानी से एक दिन तक चलती है। सेल्फी स्मार्टफोन ने कॉल क्वालिटी के मामले में भी अच्छा परफॉर्म किया।

asus zenfone selfie openback ndtv

हमारा फैसला
आसुस ज़ेनफोन सेल्फी स्मार्टफोन बहुत हद तक सस्ता और भरोसेमंद हैंडसेट है जिसकी परफॉर्मेंस सम्मानजनक है और इसमें मौजूद सॉफ्टवेयर भी संतोषजनक। यह पूरी तरह से तो प्रीमियम अनुभव तो नहीं देता, पर उसके आसपास ज़रूर पहुंचता है। यह दिखने और पकड़ने में अच्छा एहसास देता है। अब आसुस ने अपनी एक पहचान भी बना ली है और इसके बूते वह मार्केट में अपनी हिस्सेदारी बढ़ा सकता है।

इस फोन में मौजूद कैमरा फ़ीचर ऐसे हैं जो हमें आमतौर पर प्रीमियम स्मार्टफोन में देखने को मिलते हैं। लेज़र ऑटोफोकस सिस्टम, बड़ा फ्रंट कैमरा सेंसर और फ्रंट डुअल टोन फ्लैश जैसे फ़ीचर 20,000 रुपये से कम की कीमत में मिलने वाले किसी डिवाइस के लिए पूरी तरह से प्रीमियम हैं। ऐसा नहीं है कि कैमरे में कोई कमी नहीं है पर आप आसुस ज़ेनफोन सेल्फी से शानदार तस्वीरों की उम्मीद कर सकते हैं।

अगर आप उन लोगों में से हैं जो स्मार्टफोन का कैमरा इस्तेमाल करते हैं, खासकर अपनी ही तस्वीरें लेने (सेल्फी) के लिए, तो ज़ेनफोन सेल्फी आपके लिए बेहतरीन विकल्प है। यह एक सक्षम डिवाइस है जिसका रियर और फ्रंट कैमरा बेहतरीन है। आप इससे निराश नहीं होने वाले।


Source link

Total Page Visits: 138 - Today Page Visits: 1