आपके बजट में प्रीमियम दिखने वाला फोन

बजट स्मार्टफ़ोन सेगमेंट में ज़बरदस्त प्रतिस्पर्धा देखने को मिल रही है। कोई भी ब्रांड पीछे नहीं रहना चाहता। इसी सेगमेंट में शाओमी (Xiaomi), मोटोरोला (Motorola), यू टेलीवेंचर्स (Yu Televentures), माइक्रोमैक्स (Micromax) और कई छोटी कंपनियों की नज़र आपके पैसे पर है। हर दूसरे दिन एक नया स्मार्टफ़ोन बाज़ार में पेश किया जा रहा है।

ऐसे में लावा मोबाइल्स (Lava Mobiles) कैसे पीछे रहता। कंपनी ने अपने प्रीमियम ब्रांड ज़ोलो (Xolo) के जरिए इस सेगमेंट में अपनी दावेदारी पेश की है। ज़ोलो ब्लैक (Xolo Black) हैंडसेट 12,999 रुपये में उपलब्ध है। यह हैंडसेट डुअल रियर कैमरे और फ्रंट फ्लैश जैसे कई उपयोगी के फ़ीचर के साथ आता है और खुद को ‘प्रीमियम’ दिखाने की पूरजोर कोशिश भी करता है। क्या Xolo Black मार्केट में अपनी छाप छोड़ पाएगा? आइए जानते हैं।

xolo_black_back_ndtv

लुक और डिज़ाइन
कर्व्ड एज़ेज और मैटे फिनिश मेटल फ्रेम के कारण Xolo Black दिखने में सोनी एक्सपीरिया ज़ेड3 (Sony Xperia Z3) जैसा है। Xolo Black की बॉडी में ग्लास का इस्तेमाल किया गया है। फ्रंट और रियर पैनल पर Corning Gorilla Glass का प्रोटेक्शन भी मौजूद है, जो हैंडसेट को स्क्रैच फ्री रखने में मदद करेगा। फ्रंट कैमरा और इसके साथ इस्तेमाल होने वाले फ्लैश को टॉप के दोनों कॉर्नर पर जगह दी गई है। बैकपैनल में Xolo और Hive की ब्रांडिंग के अलावा डुअल-कैमरे के सेटअप है। चार्जिंग पोर्ट और स्पीकर्स को फोन के निचले और 3.5mm हेडसेट सॉकेट को टॉप में जगह दी गई है।

xolo_black_sim_ndtv

सिम ट्रे फोन की बायीं तरफ हैं और पावर व वॉल्यूम बटन दायीं तरफ। दूसरे सिम स्लॉट का इस्तेमाल माइक्रोएसडी कार्ड स्लॉट के तौर पर भी किया जा सकता है। पावर बटन स्टेटस लाइट का भी काम करता है, जो हमें अटपटा लगा। वैसे 12,999 रुपये की कीमत में कंपनी ने एक बेहतरीन बिल्ड वाला फोन पेश किया है और यह अपने प्रतिद्वंद्वियों से ज्यादा प्रीमियम नज़र आता है।

xolo_black_powervolume_ndtv

स्पेसिफिकेशन और सॉफ्टवेयर
Xolo Black में Qualcomm Snapdragon 615 (2nd Gen) प्रोसेसर का इस्तेमाल किया गया है, यानी यह 4G को सपोर्ट करता है। अच्छी बात यह है कि इसमें भारत में इस्तेमाल होने वाले 4G बैंड के लिए भी सपोर्ट मौज़ूद है। हैंडसेट का 5.5 इंच का डिस्प्ले फुल-एचडी रिजॉल्यूशन वाला है, जिसकी पिक्सल डेनसिटी 401ppi है। डिवाइस में 2GB का रैम (RAM), 16GB की इंटरनल स्टोरेज (32GB तक के माइक्रोएसडी कार्ड के लिए सपोर्ट) और 3,200mAh की लिथियम-पॉलीमर बैटरी है। रियर कैमरे सेटअप में दो सेंसर मौजूद हैं, प्राइमरी कैमरा 13 मेगापिक्सल का और सेकेंडरी 2 मेगापिक्सल का। फ्रंट कैमरा 5 मेगापिक्सल का है। Xolo Black में कंपनी ने अपने Hive UI का इस्तेमाल किया है, जो एंड्रॉयड लॉलीपॉप 5.0.2 (Android Lollipop 5.0.2) पर बेस्ड है। Hive एक रोचक UI है, जिसमें कई ऐसे फ़ीचर मौजूद हैं जो इस प्राइस रेंज के बाकी डिवाइस पर नहीं मौजूद। ऐप ड्रॉअर (app drawer) थोड़ा अलग है। इसमें ऐप को अल्फाबेट, इंस्टॉलेशन के वक्त और ऐप कैटेगरी के आधार पर कस्टमाइज़ किया जा सकता है।

xolo_black_hive_ndtv

हालांकि, Hive कई बार थोड़ा स्लो परफॉर्म करता है। कभी-कभार स्क्रीन लोड करने में धीमा है और इसके एनिमेशन भी पूरी तरह से लोड होने में ज्यादा वक्त लगाते हैं। वैसे, यह ज्यादातर ठीक काम करता है, इसलिए हमें ज्यादा शिकायत नहीं। डिफॉल्ट Hive लॉक स्क्रीन बेहद ही ख़राब है, यह बिल्कुल ही अपील नहीं करता। अच्छी बात यह है कि इसे डिसेबल किया जा सकता है। आप क्विक लॉन्च कीज़ (keys) और डिस्प्ले नोटिफिकेशन को कस्टमाइज़ कर सकते हैं। कुल मिलाकर अन्य मेनिफैक्चरर की तुलना में इसका यूज़र इंटरफेस ज्यादा बेहतर है। यूज़र को कस्टमाइज़ेशन का मल्टीपल ऑप्शन मिलता है और सेटिंग्स के जरिए ढेरों बदलाव भी संभव हैं।

कैमरा  
मज़ेदार बात है कि Xolo Black के रियर पैनल में डुअल-कैमरा सेटअप का इस्तेमाल किया गया है। यह सेटअप ऑटोफोकस की स्पीड बढ़ाता है और फोटो के अलग-अलग हिस्सों पर रीफोकस करने का ऑप्शन देता है। HTC One M8 डिवाइस में भी यही डुअल-कैमरा फीचर मौजूद था। डिवाइस तेजी से ऑटोफोकस तो करता है, पर बहुत ज्यादा नहीं। रीफोकस फीचर भी ठीक-ठाक काम करता है, पर इसका ज्यादा इस्तेमाल नहीं। ऑप्टिज़ूम (OptiZoom) और क्रोमाफ्लैश (ChromaFlash) फ़ीचर का जिक्र जरूरी है। OptiZoom का काम तस्वीरों की ज़ूम क्वालिटी इम्प्रूव करना है, पर यह उतना कारगर नहीं। ChromaFlash की ज़रूरत लगातार दो तस्वीरें खींचने में होती है, एक फ्लैश के साथ और दूसरे उसके बिना। इसके बाद सॉफ्टवेयर इन फ्रेम्स को कंबाइन करके एक सिंगल इमेज क्रिएट करता है, जिस पर फ्लैश का इफैक्ट कम है और रिजल्ट इमेज ज्यादा रियल भी। इसकी परफॉर्मेंस ने हमें खुश किया।

xolo_black_camerashot_ndtv

शार्प, डिटेल और वाइब्रेंट तस्वीर लेने में कैमरा ठीक काम करता है, पर व्हाइट कलर ज्यादा ब्राइट नज़र आते हैं। 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा स्टेंडर्ड काम करता है और इसमें अपना फ्लैश भी मौजूद है। सेल्फी लवर्स इस फ़ीचर को पसंद करेंगे, क्योंकि कम रौशनी में यह फ्लैश बेहतर सेल्फी लेने में मदद करेगा। यह कहना गलत नहीं होगा कि रेगुलर फोटो खींचने का शौक रखने वाले Xolo Black के कैमरे से खुश होंगे।

कैमरा सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करना आसान है और इसमें वे सारे फीचर व मोड मौजूद हैं जिसकी उम्मीद आप एक स्मार्टफोन से करते हैं। कैमरे के लिए दो ऐप दिए गए हैं, एक तो सामान्य मोड वाला, जिसमें कई फिल्टर मौजूद है। दूसरा, डुअल कैमरा ऐप जो 2 मेगापिक्सल के सेकेंडरी कैमरा का भी साथ में इस्तेमाल करता है। इन दोनों ऐप को अपनी ज़रूरत के हिसाब से इस्तेमाल करने के दौरान हम थोड़ा कनफ्यूज हो गए। उम्मीद है कि अगले वर्ज़न में यह कमी दूर कर दी जाएगी।

xolo_black_dualcam_ndtv

परफॉर्मेंस
Xolo Black की परफॉर्मेंस अच्छी है। डिवाइस आसानी से ज्यादातर टास्क पूरे कर लेता है। Hive UI कभी-कभार धीमा पड़ जाता है, पर यह ऐप्स और गेम्स की परफॉर्मेंस पर असर नहीं डालता।  हमने जब तक फोन अपने पास रखा, यह कभी क्रैश नहीं हुआ। वॉयस क्वालिटी भी अच्छी थी।  डिवाइस के हेडफोन और स्पीकर्स से आवाज़ अच्छी आई। इसने ज्यादातर एचडी वीडियो आसानी से प्ले किया। हालांकि, कुछ के साथ फाइल फॉर्मेट की समस्या जरूर आई। हमने फोन पर सोनिक रनर्स गेम भी खेला और पाया कि कहीं भी कोई लैग या फिर परफॉर्मेंस प्रॉब्लम नहीं है। मल्टीटास्किंग के दौरान फोन धीमा जरूर हो गया, इसलिए हमारा सुझाव होगा कि एक वक्त पर ज्यादा ऐप्स का इस्तेमाल ना करें। डिस्प्ले फुल-एचडी जरूर है, पर कलर व कॉनट्रास्ट के मामले में यह थोड़ा कमज़ोर है।

Xolo Black ने AnTuTu और Quadrant टेस्ट में क्रमशः 32,519 और 20,996 प्वाइंट पाए। हमने डिवाइस पर 3D Mark Ice Storm Extreme और GFXBench भी रन किया, इस दौरान क्रमशः 5427 प्वाइंट्स और14fps के रिज़ल्ट मिले। Snapdragon 615 पर बेस्ड बाकी डिवाइस ने भी ऐसे ही रिज़ल्ट दिए हैं। हमारे वीडियो लूप टेस्ट पर बैटरी 9 घंटे 41 मिनट तक चली, जो3,200mAh पावर वाले डिवाइस के लिए थोड़ा कम है। नॉर्मल यूज़ के दौरान बैटरी आसानी से एक दिन तक चली।

xolo_black_top_ndtv

हमारा फैसला
Xolo Black औसत से बेहतर क्षमता वाला एक स्मार्टफोन है, जिसका इस्तेमाल करने में कोई प्रॉब्लम नहीं आती। यह अपने प्राइस रेंज के बाकी स्मार्टफोन की तुलना में बराबरी की परफॉर्मेंस देता है। यह देखने में भी अच्छा है और इसमें कुछ ऐसे फीचर मौजूद हैं, जो अपनी अलग छाप छोड़ते हैं।

इसका डुअल रियर कैमरा सेटअप, फ्रंट फ्लैश और फोटोग्राफी के दौरान ठीक-ठाक परफॉर्मेंस, डिवाइस को एक अलग पहचान देता है। हमें यह फोन पसंद आया और उम्मीद है कि आपको भी पसंद आएगा। अगर आप एक ऐसे फोन की तलाश में हैं जो अपना काम बखूबी निभाये और उसकी कीमत भी ज्यादा ना हो, तो Xolo Black के बारे में जरूर विचार करें।


Source link

Total Page Visits: 67 - Today Page Visits: 2